img
img
img

नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के सदस्यों ने आज शहर में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नाम एक ज्ञापन उपायुक्त को सौंपा

admin  1 month, 4 days ago Top Stories

PANIPAT AAJ KAL , 18  सितम्बर (जस्रपीत) :  अपनी मांगों को लेकर नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के सदस्यों ने आज शहर में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नाम एक ज्ञापन उपायुक्त को सौंपा। उपायुक्त ने उनके ज्ञापन को श्रीघ मुख्यमंत्री तक पहुंचा दिया जाएगा। नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा की पानीपत इकाई के सदस्य आज पालिका बाजार स्थित निगम कार्यालय में एकत्रित हुए तथा यहां से पद्रेश सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी करते हुए जी.टी.रोड से होते हुए लघु सचिवालय पहुंचे। प्रदर्शन का नेतृत्व नगर निगम पानीपत कर्मचारी यूनियन के प्रधान सुभाष चन्डालिया ने किया। प्रदर्शन का संचालन कर्मचारी संघ हरियाणा के शाखा सचिव कृष्ण बागड़ी ने किया। प्रदर्शनकारी हरियाणा सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए सुभाष चन्डालिया ने कहा कि प्रदेश की सरकार ने सभी कर्मचारियों को सांतवे वेतन आयोग का लाभ दे दिया लेकिन प्रदेश की पालिका परिषदों व निगमों के कर्मचारियों को इस लाभ से वंचित कर दिया। वहीं भाजपा सरकार ने 2014 के चुनाव के दौरान चुनावी घोषणा पत्र में कर्मचारियों से यह वादा किया था की सरकार बनते ही हम ठेका प्र्रथा समाप्त कर देंगें, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करेंगें 15 हजार रूपया न्यूनतम वेतन देंगें। लेकिन सरकार सत्तासीन होते ही अपने वायदों से पीछे हट गई। श्री चन्डालिया ने कहा कि सफाई कर्मचारी वह व्यक्ति है जो सुबह अपने बच्चों को बिस्तर में छोडक़र शहर में गलियों,सडक़ों व नालियों की सफाई में जुट जाता है। इसके बावजूद जनता को सफाई की सुविधा उपलब्ध कराने वाले इस वर्ग के प्रति पिछली सरकार की तरह मौजूदा सरकार भी नकारात्मक रूख अपना रही है। इसलिए आज यह प्रदर्शन किया गया है। वहीं सर्व कर्मचारी संघ के जिला प्रधान कश्मीर सिंह व सचिव तेजपाल ने भी नगर निगम के कर्मचारियों के इस प्रदर्शन का समर्थन किया तथा उनकी मांगों को जायज बताते हुए प्रदर्शन में भाग लिया। वहीं उपायुक्त डा.चन्द्रशेखर खरे को सौंपे ज्ञापन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मांग की गई है कि संघ व सरकार के बीच 11 जुलाई को 18 सूत्रीय मांग पत्र हुए समझौते को शीघ्र लागू किया जाए। इस अवसर पर रणबीर नांदल, सतबीर, कृष्ण बागड़ी, रीटा रानी, जसबीर, देसराज, बीरसिंह, मनोज, मुकेश, ईश्वर, प्रकाश व लीला देवर आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।


img
img
img