अधिकारी समस्याओं को लटकाएं नहीं बल्कि उनका जितना जल्दी हो सके  करें समाधान: उपायुक्त डॉ.वीरेन्द्र कुमार दहिया।

admin  2 weeks, 2 days ago Top Stories

-समाधान शिविर में उपायुक्त ने सप्ताह भर की समस्याओं की अधिकारियों के साथ की समीक्षा।
-कृषि मंत्री के निर्देश पर मंगलवार से समाधान शिविर का समय रहेगा 10 से 12 बजे तक।
-समाधान शिविर में शिकायतकर्ताओं ने रखी 317 समस्याएं, 203 का हुआ मौके पर समाधान.

PANIPAT AAJKAL , 8 जुलाई। हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सैनी के दिशा निर्देश पर आयोजित किये जा रहे समाधान शिविर लोगों की समस्याओं का तत्काल निदान करने की दिशा में गतिमान होते नजर आ रहे है। प्रशासनिक अधिकारियों के सफल प्रयासों से शिविर में पहुंचने वालों की संख्या दो दिन के अवकाश के बाद सोमवार को अच्छी खासी नजर आई। उपायुक्त डॉ.वीरेन्द्र कुमार दहिया ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे शिकायतकर्ताओं को शंकाओ में ना रखें ।उनकी समस्याओं को लटकाएं नहीं बल्कि उनका जितना जल्दी हो सके समाधान करें। उन्होंने अधिकारियों से संवाद कर पिछले सप्ताह समाधान शिविर में पहुंची समस्याओं की समीक्षा कर समस्याओं की प्रगति की जानकारी ली।
उपायुक्त डॉ.वीरेन्द्र कुमार दहिया ने कहा कि जो लोग समाधान शिविर में पहुंच रहे उनका विश्वास टूटना नहीं चाहिए। उनकी उम्मीद ही हमारी ताकत है। अधिकारी इस चीज पर विशेष ध्यान रखें कि जो समस्या लेकर शिकायतकर्ता समाधान शिविर में आ रहे है वो किस स्थिति में है। उनकी समस्या का समाधान एक सेवा का कार्य है। इस पुण्य कार्य को करने में किसी भी प्रकार की कोताही न बरतें। हमारी मनो स्थिति शिकायतकर्ताओं के कार्य के साथ जुड़ी होनी चाहिए। इसमें शासन व प्रशासन दोनों का विश्वास व भरोसा जनता के साथ जुड़ा रहता है।
समाधान शिविर में शिकायत लेकर पहुंची दुलारी वासी काबड़ी ने प्रशासन से प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लाभ दिलवाने का अनुरोध किया। उन्होंने प्रशासन से गुहार लगाई कि उनके परिवार का कोई भी सदस्य सरकारी नौकरी पर नियुक्त नहीं है। उनकी जीविका का जरिया केवल मेहनत मजदूरी है। उपायुक्त ने उपरोक्त महिला की शिकायत पर संज्ञान लेते हुए संबंधित अधिकारियों को इस पर संज्ञान लेने की निर्देश दिए।
शिकायतकर्ता अंकुश, दीपक, विनय वासी सैक्टर 11 ने प्रशासन से अनुरोध किया कि बारिश के पानी के चलते सिवर के जाम होने के कारण पूरी गली में पानी का भरा हो जाता है। जिसके कारण बीमारी की आशंका बनी हुई है। उन्होंने प्रशासन से तत्काल संज्ञान लेते हुए समाधान करने का अनुरोध किया।
ग्राम पंचायत पसीना खुर्द ने प्रशासन से अनुरोध किया कि गांव में पशु अस्पताल निर्माण के लिए 3 साल पूर्व टैंडर हुआ था लेकिन अभी तक पशु अस्पताल का निर्माण नहीं हो पाया है। उनका पुराना पशु अस्पताल जर्जर हालत में है। अस्पताल में दवाई तक रखने की जगह नहीं है। जिसकी वजह से गांव के लोग पशुओं के इलाज के लिए परेशान है। एक अन्य शिकायतकर्ता तेजपाल वासी बापौली ने जमा बंदी ठीक कराने के लिए प्रशासन से अनुरोध किया।
ईलम सिंह वासी बापौली ने प्रशासन से अनुरोध किया कि उनके मकान के साथ लगते ट्रांसफार्म को अन्य स्थान पर रखा जाएं क्योंकि घर के नजदीक होने के कारण हमेशा हादसे का अंदेशा रहता है। उपायुक्त ने बिजली विभाग के अधिकारियों को तुरंत संज्ञान लेने के निर्देश दिए।
एक अन्य शिकायतकर्ता भारत भूषण ने जोकि कृष्ण पुरा के रहने वाले है।  उन्होंने प्रशासन को जमीन के प्लाट संबंधी अपनी समस्या बताई व किस प्रकार से उनके साथ धोखाधड़ी करके मेरे साथ फुल एंड फाइनल पैमेंट का इकरारनामा लिखवा कर अन्य किसी व्यक्ति को बेचने का आरोप लगाया। उन्होंने प्रशासन से न्याय दिलाने की मांग की। इस मौके पर निगम आयुक्त साहिल गुप्ता, पुलिस अधीक्षक अजीत सिंह शेखावत, एसडीएम मनदीप सिंह, सीईओ जिला परिषद गौरव, निगम संयुक्त कमीशनर मनी त्यागी, सीटीएम टीनू पोसवाल, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी राकेश बूरा, डीआरओ रणविजय सुलतानिया, सीएमओ जंयत आहुजा, डीएफएससी आदित्य कौशिक, जिला मतस्य अधिकारी अनुज कुमारी, सहायक पौध संरक्षण अधिकारी राजेश भारद्वाज, डॉ. दीपशिखा, डीडीपीओ विशाल परासर, आईटीआई प्रिंसीपल डॉ.कृष्ण आदि मौजूद रहे।

img
img