img
img
img

सीआईए-वन पुलिस टीम को लूटने के प्रयास मे तीन आरोपी काबु। मंदिर मे चोरी की करीब 10 वारदातों का खुलासा।

admin  5 months, 3 weeks, 6 days ago Top Stories

PANIPAT AAJKAL : सीआईए-वन पुलिस टीम को लूटने के प्रयास मे तीन आरोपी काबु। मंदिर मे चोरी की करीब 10 वारदातों का खुलासा।आरोपियों की पहचान सुनील उर्फ सिन्हा, सुमित उर्फ भोलू निवासी जूआ माहरा व सुरजीत उर्फ खाखी निवासी चिटाना जिला सोनीपत के रूप मे हुई।गहनता से पुछताछ करने व चोरी किया सामान बरामद करने के लिए तीनो आरोपियो को आज माननीय न्यायालय मे पेश कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया।सीआईए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया कि पुलिस अधीक्षक श्री सुमित कुमार जी के कुशल दिशा निर्देशानुसार अपराध व अपराधिक वारदातों पर अंकुश लगा आरोपियों की धरपकड़ के लिए जिला पुलिस द्वारा विशेष अभियान चलाया गया है। अभियान के तहत सोमवार साय सब-इंस्पेक्टर जगबीर सिंह के नेत्रत्व मे सीआईए-वन की एक टीम गश्त के दोरान काबड़ी रोड़ एम्बीसन सीटी के पास मौजूद थी। इसी दोरान टीम को गुप्त सूचना मिली कि संद्विगध किस्म के तीन युवक टी.डी.आई से काबड़ी जाने वाले रोड़ पर पूलियां के पास राहगिरों को लूटने की फिराक मे घूम रहे हे। इस विषेश सूचना के आधार पर टीम ने तुरंत आरोपियों की धरपकड़ के लिए गाड़ी पर लगी बत्ती को उतारा और अंदर की सभी लाइटे बंद कर काबड़ी रोड़ पूलियां के नजदीक पहुचें तो रोड़ पर खड़े आरोपियों ने टार्च की लाईट मारते हुए रोड़ के बीच मे आकर गाड़ी को रूकवाया। गाड़ी के रूकते की एक आरोपी ने हाथ मे लिए लोहे के सरिये को ड्राईवर की तरफ तानते हुए जो कुछ जेब मे हे निकालने की धमकी दी। इसी दोरान साईड वाली सीट पर बैठे सब-इंस्पेक्टर धर्मबीर सिंह ने तुरंत गाड़ी की सभी लाईट ऑन कर दी। सभी आरोपी पुलिस टीम को देखकर एकदम से भागने का प्रयास करने लगे तो पुलिस टीम ने तत्परता से कार्रवाही करते हुए तीनो आरोपियो को मोके पर ही काबु करने मे कामयाबी हासिल की। पुछताछ करने पर आरोपियों ने अपनी पहचान सुनील उर्फ सिन्हा पुत्र दयानंद, सुमित उर्फ भोलू पुत्र पूर्ण सिंह निवासी जूआ माहरा व सुरजीत उर्फ खाखी पुत्र कर्मबीर निवासी चिटाना जिला सोनीपत के रूप मे बताई। आरोपियो के कब्जे से एक लोहे का सरियां व एक टार्च बरामद हुई।इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया की आरोपियों के खिलाफ थाना माडल टाउन मे भा.द.स की धारा 398,401 के तहत मुकदमा दर्ज कर गहनता से पुछताछ की तो आरोपियो ने जिला मे अलग-अलग स्थानो पर बने मंदिरों मे चोरी की 10 वारदातों को अंजाम देने बारे स्वीकारा इसके अतिरिक्त नारायणा गांव से एक ट्राली चोरी करने की वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकारा। मंदिरों मे हुई चोरी की इन सभी वारदातो बारे जिला के थाना चांदनी बाग, समालखा, इसराना व मतलोडा मे मुकदमे दर्ज है।

इंस्पेक्टर राजपाल सिंह ने बताया की आरोपी सुनील उर्फ सिन्हा व सुरजीत का पहले भी अपराधिक रिकार्ड होना पाया गया है। दोनो आरोपी चोरी के मुकदमों के संबध मे पहले भी जेल जा चुके है। करीब 2 वर्ष पहले दोनो आरोपी सोनीपत जेल से बेल पर बाहर आए थे। गहनता से पुछताछ करने व वारदात को अंजाम दे चोरी की गई नगदी बरामद करने के लिए गिरफतार तीनो आरोपियों को आज माननीय न्यायालय मे पेश कर तीन दिन का पुलिस रिमांड लिया गया।

आरोपियों से चोरी की इन वारदातों का खुलासा हुआ।

1. आरोपियो ने वर्ष 2018 मे समालखा के शनि मंदिर मे चोरी की वारदात को अजाम दिया।


2. अगस्त 2019 मे समालखा मे स्थित साईबाबा मंदिर मे चोरी की वारदात को अजाम दिया।


3. मार्च 2019 मे नारायणा गांव के खेत मे बने मंदिर मे चोरी की वारदात को अजाम दिया।


4. मार्च 2019 मे गांव राक्सेहड़ा मे मंदिर मे चोरी की वारदात को अंजाम दिया।


5. जूलाई 2019 मे समालखा के सनातन धर्म मंदिर मे चोरी की वारदात को अजाम दिया।


6. जनवरी 2019 मे भादड़ गांव के शिव मंदिर मे चोरी की वारदात को अजाम दिया।


7. आरोपियों ने बलाना मे माता रानी के मंदिर मे चोरी की वारदाता को अजाम दिया।


8. आरोपियो ने गांव नारा मे सति के मंदिर मे चोरी की वारदात को अंजाम दिया।


9. आरोपियों ने गांव अदीयान मे मंदिर मे चोरी की वारदात को अंजाम दिया।


10. आरोपियो ने सिवाह गांव मे बने शनि मंदिर मे चोरी की वारदात को अंजाम दिया।


11.  आरोपियो ने गांव नारायणा से एक ट्राली चोरी करने की वारदात को अंजाम दिया।  

img
img
img